Random

शायरी

“इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है, इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है, इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी, पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है।” Hola, people!!! How’re you all doing? I hope good…  I’m back again with poetry. Do tell me what do you think about it.  Have A… Continue reading शायरी